All Bihar SC/ST Doctors & Medicos Association

विद्या नाम नरस्य रूपमधिकं प्रच्छन्नगुप्तं धनं विद्या भोगकरी यश:सुखकरी विद्या गुरूणां गुरु:।

विद्या बन्धुजनो विदेशगमने विद्या परं दैवतं विद्या राजसु पूजिता न तु धनं विद्या विहीन: पशु:।।

Library

Rajkiya Sanskrit College, Patna is enriched with a big library with nearly six thousands books & journals for students. Study room, an integral part of the library, provides space enough for boys and girls to sit and study in a very peaceful atmosphere. Dr. Madhu Bala Sinha, Incharge of the Library, is quite prompt in extending assistance to students. Proposal for separate Library-building has been sent to the Eastern Regional office of the University Grants Commission, Kolkata. Rare books meant or oriental studies are easily available to the students form the library. Books and journals have just been purchased from the funds obtained from University Grants Commission.


राजकीय संस्कृत काॅलेज, पटना में एक विशाल एवं समृद्ध पुस्तकालय है जिसमें लगभग 6000 से अधिक पुस्तकें और पत्रिकाएँ विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध है। साथ वाचनालय भी छात्रों को अध्ययन के लिए समुचित वातावरण प्रदान करता है। पुस्तकालय प्रभारी डाॅ॰ मधु बाला सिन्हा छात्रों के अध्ययन-अध्यापन के लिए उचित पुस्तकों कको उपलब्ध कराकर पुस्ताकालय को उच्च कोटि का बनाने का प्रयासकरती है। पुस्तकालय भवन के निर्माण हेतु विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को प्रस्ताव भेजा गया है जिसके पश्चात सह पुस्तकालय अधिक समृद्ध और उपयोगी हो जाएगा।

uploading uploading